Wednesday, April 1, 2020

सफलता मंत्र: महामारी संक्रमण को हराने के लिए चाणक्य ने बताए ये 5 सफल उपाय

By
सक्सेस मंत्र: चीन से फैले घातक कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को घेर लिया है। भारत में, कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या लगभग 1024 तक पहुंच गई, जबकि मृत्यु का आंकड़ा 29 तक पहुंच गया है। कोरोना वायरस के संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए, सबसे पहले इसके लक्षणों की पहचान करना महत्वपूर्ण है। कोरोना वायरस नाम की बीमारी को इसके लक्षणों की पहचान करके सुरक्षा उपायों से ही नियंत्रित किया जा सकता है। कोरोना नाम के संक्रमण में बुखार, ठंड, सांस की तकलीफ, बहती नाक और गले में खराश जैसे लक्षण व्यक्ति में देखे जाते हैं। यह वायरस एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैलता है। WHO ने बीमारी के प्रकोप को देखते हुए कोरोना को महामारी घोषित किया है।

अब सवाल उठता है कि इस महामारी से कैसे छुटकारा पाया जाए। ऐसी स्थिति में, आचार्य चाणक्य ने एक व्यक्ति को कोरोना जैसी महामारी से सफलतापूर्वक निपटने के लिए कुछ आसान उपाय सुझाए हैं। आइए जानते हैं क्या हैं ये उपाय।

महामारी को हराने के लिए इन उपायों का पालन करें-


1-सुरक्षा उपाय-
आचार्य चाणक्य के अनुसार, महामारी के दौरान लोगों को जो भी सुरक्षा उपाय बताये जाते हैं, उन्हें उनका अच्छी तरह पालन करना चाहिए। यही नहीं, लोगों को अन्य लोगों को भी इन उपायों से अवगत कराना चाहिए। कोई भी देश अपने देशवासियों के सहयोग से महामारी जैसी स्थिति से आसानी से निपट सकता है।

2-स्वच्छता की देखभाल-
आचार्य चाणक्य के अनुसार, महामारी के दौरान स्वच्छता का महत्व बहुत बढ़ जाता है। चाणक्य का मानना ​​था कि स्वच्छता एक हथियार है जिससे महामारी भाग जाती है।

3-पौष्टिक भोजन-
आचार्य चाणक्य का मानना ​​था कि कोई भी बीमारी किसी व्यक्ति को अपना शिकार तभी बना सकती है जब उससे लड़ने के लिए शरीर की प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो। ऐसे में किसी की इम्युनिटी बढ़ाने के लिए नियमित पौष्टिक आहार लेना बहुत जरूरी है।

4-अनुशासित जीवन शैली
महामारी के दौरान, एक व्यक्ति को आलस्य छोड़ना चाहिए और अनुशासित जीवन जीना चाहिए। इसके लिए उसे समय पर खाना और सोना चाहिए। एक संकट की स्थिति में, एक कठोर जीवन शैली व्यक्ति को महामारी के प्रभाव से बचाने में मदद करती है।

5 - घर से बाहर न निकलें
आचार्य चाणक्य के अनुसार, अगर किसी देश में महामारी का खतरा बढ़ता है, तो लोगों को अपने घरों से बाहर नहीं निकलना चाहिए। महामारी के दौरान घर पर रहना सबसे अच्छा माना जाता है। जो लोग घरों से बाहर निकलते हैं उन्हें संक्रमित होने या अन्य लोगों को संक्रमित करने का खतरा बढ़ जाता है।

0 comments:

Post a Comment