Saturday, April 4, 2020

अमेरिका में कोरोना से भयभीत होकर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने पीएम मोदी से मदद मांगी

By
Corona Virus ( कोरोना वायरस ) के कारण इन दिनों अमेरिका में रोष व्याप्त है। तीन लाख से अधिक कोरोना मामले सामने आने के बाद अमेरिका ने भारत से मदद मांगी है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि उन्होंने पीएम मोदी से कोरोना मरीजों के इलाज के लिए हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन चेन के लिए कहा है।

डोनाल्ड ट्रंप ने कहा, 'मैं प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करता हूं। वे काफी हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन एमबीएस हैं। भारत में सक्रिय रूप से काम कर रहा है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि वह इन एमबीएस का भी उपभोग करेंगे। उन्होंने कहा, 'शायद मैं भी कर सकता हूं। हालाँकि, इसके लिए मुझे पहले डॉक्टरों से बात करनी होगी। '

उन्होंने आगे कहा कि मैं इस बात की सराहना करूंगा कि यदि भारत हमारी ओर से एमबीएस की खेप जारी करेगा। उन्होंने कहा, 'भारत ने इस एमबीएस को बड़ी संख्या में बनाया है। उसे अपने अरब से अधिक लोगों के लिए इसकी आवश्यकता है। '


अमेरिका में कोरोनोवायरस के मामलों की संख्या बढ़कर 300,000 हो गई है और देश में 8,100 से अधिक लोग इस संक्रमण के कारण अपनी जान गंवा चुके हैं। संयुक्त राज्य अमेरिका, जो कोरोनोवायरस मामलों की निगरानी कर रहा है, ने शनिवार को जॉन्स एपकिंस विश्वविद्यालय में ये आंकड़े दिए। उन्होंने कहा कि अमेरिका में संक्रमण के कम से कम 3,00,915 मामलों की पुष्टि हुई है और 8,162 लोग मारे गए हैं।)

"अगले दो हफ्तों में और अधिक कठिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है।"


डोनाल्ड ट्रम्प ने कोरोनोवायरस रोगियों की बढ़ती संख्या के साथ कहा, अगले दो सप्ताह अधिक कठिन परिस्थितियों का सामना करेंगे। व्हाइट हाउस में एक संवाददाता सम्मेलन में ट्रम्प ने कहा, 'अगले दो सप्ताह बहुत, बहुत जीवन-धमकी देने वाले हैं। हम इससे दुर्भाग्य से निपटने जा रहे हैं ताकि हम कम से कम अपना जीवन खो दें और मुझे लगता है कि हम सफल होंगे। 'ट्रम्प ने कहा कि हम एक ऐसे दौर से गुजरने जा रहे हैं जो शायद इस देश में पहले नहीं देखा गया। मेरा मतलब है कि मुझे नहीं लगता कि हमने कभी देश में ऐसा देखा है।

0 comments:

Post a Comment